मुफ्त राशन और यात्रा भत्ता बन रहा टीबी के इलाज में बेहतर विकल्प

चौबीस वर्षीय इमरान को टीबी की दोहरी मार पड़ी थी। साल भर पहले उन्हें एक्सडीआर-टीबी (सबसे घातक टीबी संक्रमण) हो गया है। साथ ही नौकरी से भी हाथ धोना पड़ा है। इमरान बताते हैं कि एक्सडीआर-टीबी का मुफ्त इलाज उन्हें नजदीकी स्वंयसेवी संस्था की मदद से उपलब्ध हो रहा है। लेकिन इससे ज्यादा बड़ी समस्या पौष्टिक आहार की थी। हाल ही में अंतरराष्ट्रीय संगठन एमएसएफ ने इमरान को इलाज पूरा होने तक मुफ्त राशन की व्यवस्था कर दी है। उन्हें अब महीने में दस किलो अनाज, दाल और तेल आदि उपलब्ध कराया जा रहा है। देश के कई राज्यों में छोटे-छोटे पायलट प्रोजक्ट के तहत टीबी मरीजों को दिए गए राशन और प्रोत्साहन राशि के काफी आशाजनक नतीजे देखते हुए केंद्र सरकार अब ऐसी ही एक योजना पूरे देश मे लागू करने पर विचार कर रही है।

Read more here: 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Show Buttons
Share On Facebook
Share On Twitter
Share On Linkedin
Contact us
Hide Buttons